July 16, 2024 : 1:50 AM
Breaking News
MP UP ,CG Other अन्तर्राष्ट्रीय करीयर क्राइम खबरें टेक एंड ऑटो ताज़ा खबर ब्लॉग मनोरंजन राज्य राष्ट्रीय लाइफस्टाइल हेल्थ

MP: स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी, साइबर सेल के हाथ लगे अहम सबूत

Bhopal Crime News: भोपाल (Bhopal News) के नामी स्कूलों को बम से उड़ाने के मामले में साइबर क्राइम ब्रांच ने अपनी कार्रवाई तेज कर दी है. टीम के हाथ कई अहम सबूत मिले हैं. कनीकी सबूत के आधार पर अब साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने कोयंबटूर शहर पहुंची है. साइबर टीम को जांच के दौरान पता चला है कि वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क के जरिए स्कूलों को स्पूफिंग ई-मेल भेजे गए था।

भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के नामी स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी देने के मामले में अज्ञात आरोपी के खिलाफ भोपाल साइबर क्राइम ब्रांच को कई अहम सबूत हाथ लगे हैं. इन्हें तकनीकी सबूत के आधार पर अब साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने कोयंबटूर शहर में डेरा डाल लिया है. यहां के चयनित स्थान पर पुलिस की टीम स्थानीय पुलिस की मदद से आरोपी की लोकल लोकेशन को ट्रेस करने की कोशिश कर रही है. दरअसल कुछ दिनों पहले भोपाल के नामी स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी. इस धमकी के बाद पुलिस प्रशासन ने 11 से ज्यादा स्कूलों की सर्चिंग की, लेकिन यह जानकारी गलत होना पाई गई.इस मामले में पुलिस ने एफआईआर भी अज्ञात आरोपी के खिलाफ दर्ज की थी. इस मामले की जांच भोपाल साइबर क्राइम ब्रांच को सौंपी गई थी. साइबर टीम को जांच के दौरान पता चला है कि वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क के जरिए स्कूलों को स्पूफिंग ई-मेल भेजे गए थे. स्पूफिंग से फर्जी ईमेल तैयार करने वाले आरोपी ने जीमेल समेत दूसरे कंपनियों के सर्वर एड्रेस का इस्तेमाल कर मेल भेजा है. स्पूफिंग से मेल भेजने से लगता है कि दूसरे देशों से ई-मेल को जरनेट किया गया. कोयंबटूर शहर की चिन्हित लोकेशन पर पुलिस टीम तकनीकी साक्ष्यों की मदद से पड़ताल में जुटी है.

यह मामला साइबर से जुड़ा था. यही कारण है कि भोपाल साइबर क्राइम ब्रांच इसकी जांच कर रही है. इसकी जांच में अभी तक आए तकनीकी सबूतों के आधार पर आरोपी के लिंक का पता नहीं चल पा रहा है. इस पूरे मामले में यह शरारत एक ही आरोपी की है या फिर इसमें अन्य आरोपी शामिल है, इस बिंदु पर भी पड़ताल की जा रही है. हालांकि कुछ सबूत जरूर मिले हैं, लेकिन अभी तक आरोपी के गिरेबान तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंच सके हैं. आरोपी ने पूरी तरीके से ऐसी तकनीक का इस्तेमाल किया है जिससे उस तक पहुंचना काफी मुश्किल है.

Related posts

चीन के प्रस्तावित सुरक्षा कानून के खिलाफ प्रदर्शन, भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे

News Blast

फेयर शब्द हटाए जाने पर बोले अभय देओल- ये खूबसूरत शुरूआत है, नंदिता दास ने कहा- बड़ा चेंज आएगा

News Blast

18 से 25 जून के बीच 6 ग्रह रहेंगे वक्री; मिथुन, तुला और धनु राशि वालों को रहना होगा संभलकर

News Blast

टिप्पणी दें