May 31, 2024 : 4:38 AM
Breaking News
खबरें ताज़ा खबर राज्य राष्ट्रीय

Covid-19: दिल्ली में कोरोना बेकाबू, सत्येंद्र जैन बोले- आज आ सकते हैं 20000 केस

देश की राजधानी दिल्‍ली में कोविड-19 (Covid-19) और कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की रफ्तार से हड़कंप मचा हुआ है. राजधानी में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 17,335 नए मामले सामने आए थे. वहीं, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने आज यानी शनिवार को आने वाले संभावित मामलों को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि दिल्ली में आज 20000 मामलों के आने की संभावना है.

इसके अलावा जैन ने कहा कि मेरे हिसाब से दिल्ली में आज 20000 मामलों के आने की संभावना है. जबकि पॉजिटिविटि रेट कल से 1-2 फीसदी ज्‍यादा होने की संभावना है. साथ ही कहा कि इस वक्‍त दिल्ली के अस्पतालों में अभी लगभग 90 फीसदी बेड खाली हैं.

बता दें कि दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 17,335 नए मामले सामने आए थे, जो आठ मई के बाद एक दिन में सबसे अधिक थे. इसके अलावा नौ रोगियों की मौत हुई और संक्रमण दर बढ़कर 17.73 प्रतिशत तक पहुंच गई. दिल्‍ली स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, गुरुवार को संक्रमण के 15,709 मामले सामने आए थे. जबकि संक्रमण दर 15.34 प्रतिशत रही थी. इससे पहले बुधवार को 10,665 और मंगलवार को 5,481 मामले सामने आए थे. शुक्रवार से पहले एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक मामले 8 मई को सामने आए थे. जबकि 17,364 लोग संक्रमित मिले थे और संक्रमण दर 23.34 प्रतिशत रही थी. उस दिन 332 रोगियों की मौत हुई थी. यही नहीं, दिल्‍ली में इस वक्‍त कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के 513 मामले हैं. जबकि महाराष्‍ट्र 876 मामलों के साथ टॉप पर है. वहीं, देशभर में ओमिक्रॉन के कुल मामले 3071 हैं.

दिल्‍ली में जारी है वीकेंड कर्फ्यू
दिल्‍ली में कोविड-19 (Covid-19) और ओमिक्रॉन की रफ्तार के बीच शुक्रवार (7 जनवरी) रात 10 बजे से वीकेंड कर्फ्यू लागू है, जो कि सोमवार सुबह 5 बजे तक चलेगा. वीकेंड कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाओं के अलावा सभी सरकारी अधिकारियों के लिए वर्क फ्रॉम होम का नियम है. जबकि प्राइवेट संस्थानों में 50 फीसदी वर्क फ्रॉम होम का नियम लागू है. इसके अलावा कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने वालों के खिलाफ सख्‍ती बरतने के साथ जुर्माना लगाया जा रहा है.

हालांकि देश की राजधानी दिल्‍ली में वीकेंड कर्फ्यू के दौरान बस और मेट्रो फुल कैपेस‍िटी के साथ चल रही हैं. इस दौरान लोगों को बेवजह घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है. इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही आने जाने की अनुमति है. जबकि कोई मेडिकल इमरजेंसी में पहचान पत्र के साथ बाहर निकल सकते हैं. यही नहीं, वीकेंड कर्फ्यू के दौरान जरूरी सामान बेचने वाली दुकानों को छोड़कर बाकी सभी दुकानें बंद रखने का नियम है.

Related posts

वित्त एवं संविदा कमेटी की बैठक में करोड़ों रुपए के विकास कार्यों के प्रस्ताव को मिली मंजूरी

News Blast

Schools Reopen: जानिए इन 9 राज्यों में कब खुलेंगे स्कूल, क्या है सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश

News Blast

जिंदा रहने रोज लगे एक लाख रुपये, हर दिन 16 हजार का खाना, पढ़ें कैसे एक कोरोना मरीज पर खर्च हुए 8 करोड़

News Blast

टिप्पणी दें