June 18, 2024 : 1:07 AM
MP UP ,CG खबरें ताज़ा खबर राज्य राष्ट्रीय

Jabalpur: स्क्रैप यार्ड में बमों के खोखे का किया गया विनष्टीकरण

Jabalpur Bomb casings were destroyed in scrap yard special operation continued for four days
पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह से प्राप्त जानकारी के अनुसार, 25 अप्रैल को स्क्रैप यार्ड में हुए ब्लास्ट की जांच एनएसजी द्वारा की गई थी। जांच के दौरान यार्ड से सेना में उपयोग होने वाले बड़े तथा छोटे बमों के खाली खोखे मिले थे। यह बमों के खोखे यार्ड तक कैसे पहुंचे, इसकी जांच जारी है। यार्ड में 30 एमएम बम के दो हजार से अधिक खाली खोखे मिले थे। इसके अलावा 125 एमएम बम के 180 खोखों मिले थे। इसके अलावा अन्य साइज के भी बमों के खोखे मिले थे।उन्होंने बताया कि ब्लास्ट के बाद दो लोग लापता थे। यार्ड में मिलने मानव अंगों को डीएनए जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें से लापता खलील की डीएनए रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। दूसरे लापता युवक भोला की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। भोला के गुमशुदा होने के रिपोर्ट अधारताल थाने में दर्ज की गयी थी। उन्होंने बताया कि स्क्रैप यार्ड संचालक मोहम्मद शमीम की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो पाई है। उसके संभावित ठिकानों में दबिश जारी है। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया है। घटना की जांच एनएसजी के द्वारा की गयी थी। इसके बावजूद भी परिसर पूरी तरह सुरक्षित नहीं हो पाया था।
एएसपी सोलानी दुबे ने बताया कि पुलिस द्वारा जब्त किये गये खाली खोखे नीलामी के माध्यम से खरीदे गये थे। खाली बमों के खोखे की खरीदी अलग-अलग समय में अलग-अलग फर्म के माध्यम से की गयी थी। बेटे फहीम, सुपर वाइलर सुल्लान तथा खुद के नाम से पंजीकृत फर्म के नाम से विगत दस सालों में उक्त खरीदी की गयी थी। अलग-अलग फर्म के माध्यम से खरीदी करने के संबंध में भी जांच जारी है। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि सेना का स्क्रैप खरीदी करने के लिए सेल कंपनी तो गठित नहीं की गयी है।

Related posts

आंध्रप्रदेश से एंबुलेंस में पहुंच रहा था गांजा, चार गिरफ्तार; गैंग का सरगना फ्लाइट से आता था, 1.80 करोड़ का गांजा बरामद

News Blast

एक्ट्रेस करीना कपूर की किताब पर बवाल:ईसाई समाज ने बुक के “प्रेगनेंसी बाइबिल’ टाइटल नेम पर जताया आक्रोश, जबलपुर में FIR दर्ज कराने पहुंचे समाज के लोग

News Blast

मुंबई: सोशल मीडिया पर लिखा- शायद यह मेरी आखिरी गुड मॉर्निंग, अगली सुबह नहीं देख पाई यह डॉक्टर

Admin

टिप्पणी दें