April 15, 2024 : 5:16 PM
Breaking News
खबरें राष्ट्रीय

चंडीगढ़ PGI में अबतक 197 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव, 88 डॉक्टर भी शामिल

Corona in Chandigarh PGI: देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, इस बीच डाक्टरों और स्वास्थ्य कर्मचारियों के भी संक्रमित होने की खबरें आ रही हैं. पीजीआई चंडीगढ़ कैंपस में 197 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. इनमें 88 डॉक्टर शामिल हैं. पिछले तीन दिनों में ही 147 के करीब डॉक्टर और हेल्थ वर्कर पॉजिटिव आ चुके हैं.

चंडीगढ़. हरियाणा और पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ (Chandigarh) में कोरोना (Coronavirus) का कहर लगातार जारी है. कोरोना से पीजीआई में भी हालात बिगड़ गए हैं. पीजीआई में 197 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. इनमें 88 डॉक्टर शामिल हैं. पिछले तीन दिनों में ही 147 के करीब डॉक्टर और हेल्थ वर्कर पॉजिटिव आ चुके हैं. इनमे से ज्यादातर दोनों डोज ले चुके थे. राहत की बात ये है कि सिर्फ एक में ही गंभीर लक्षण है, बाकी सभी में माइल्ड हैं. ये आंकड़ा 20 दिसंबर से 4 जनवरी तक का है.बता दें कि ट्राइसिटी (पंचकूला-चंडीगढ़ और मोहाली) में बुधवार को कोरोना के 742 मरीजों के मिलने और चंडीगढ़ में एक मरीज की मौत से हड़कंप मच गया. संक्रमितों में पीजीआई के 16 कर्मचारी और चंडीगढ़ के डीएसपी दिलशेर सिंह चंदेल भी शामिल हैं. बुधवार को सबसे अधिक 292 मरीज मोहाली जिले में मिले, वहीं चंडीगढ़ में 229 और पंचकूला में 221 लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं.

चंडीगढ़ में मृतकों की संख्या 1000 के पार
चंडीगढ़ में इससे पहले 26 मई 2021 को शहर में 224 संक्रमित मिले थे. वहीं, 8 दिन बाद एक मरीज की मौत से मृतकों की संख्या बढ़कर 1080 हो गई है. मृतक की पहचान बहलाना निवासी 72 वर्षीय वृद्ध के रूप में हुई है. पीजीआई में इलाज के दौरान मौत हो गई. मृतक हृदय की गंभीर बीमारी के साथ ही मधुमेह और उच्च रक्तचाप से भी पीड़ित थे. तेजी से बढ़ते संक्रमित मरीजों के चलते चंडीगढ़ में संक्रमण दर 12.07 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जो दिल्ली से भी अधिक है. दिल्ली में बुधवार को संक्रमण दर 11.88 प्रतिशत रही थी.

Related posts

चीन फॉरवर्ड लोकेशंस पर लाउडस्पीकर लगाकर पंजाबी गाने बजा रहा, यह भारतीय जवानों का ध्यान भटकाने की कोशिश हो सकती है

News Blast

बिना किसी प्रशासनिक तैयारी के पुरुषोत्तम मास में आज से बृज 84 कोस की परिक्रमा शुरू

News Blast

भोपाल की कर्णिका ने प्रदेश में टॉप किया, उन्होंने 5 साल पहले पिता को खोया, कई बार भूखे रहकर पढ़ाई की; पीएससी में सिलेक्शन का लक्ष्य

News Blast

टिप्पणी दें