July 16, 2024 : 1:47 AM
Breaking News
MP UP ,CG अन्तर्राष्ट्रीय करीयर क्राइम खेल टेक एंड ऑटो बिज़नेस महाराष्ट्र राज्य राष्ट्रीय लाइफस्टाइल हेल्थ

ससुराल वालों ने शादी से पहले रखी अनोखी शर्त, लड़की ने किया बड़ा कारनामा, सात फेरों से पहले गई जेल

Gwalior News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के ग्वालियर (Gwalior Crime News) से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. दरअसल, एक युवती BSF की फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर असिस्टेंट कमांडेट की ट्रेंनिग लेने आई. लेटर की जांच की गई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ. पुलिस का कहना है कि युवती ने सॉफ्टवेयर की मदद से BSF की चयन सूची में अपना नाम जोड़ा और फर्जी नियुक्ति पत्र बनाया. दरअसल, युवती की शादी तय हो गई थी. उसके ससुराल वालों ने शर्त रखी थी कि उनको अफसर बहू ही चाहिए. उन्होंने कहा कि जब बहू को वर्दी में देख लेंगे, फिर शादी होगी. उनकी डिमांग पूरी करने के लिए युवती ने BSF का फर्जी नियुक्ति पत्र तैयार किया था. लेकिन शादी से ठीक पह ले  उसकी चालाकी सबके सामने आ गई.

ग्वालियर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर (Gwalior News) से चौंकाने वाला मामला सामने आया है. प्यार में एक युवती ने ऐसा कारनाम किया, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे. लड़की अपने शादी के सपने देख रही थी, लेकिन अब उसे जेल की हवा खानी पड़ी है. जब उसकी हकीकत सामने आई, हर कोई दंग रह गया. BSF में फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर असिस्टेंट कमांडेट की ट्रेंनिग लेने आई युवती के मामले में अहम खुलासा हुआ है. पुलिस पूछताछ में यह साफ हो गया कि युवती खुद ही फर्जीवाड़े की मास्टरमाइंड है. युवती ने सॉफ्टवेयर की मदद से BSF की चयन सूची में अपना नाम जोड़ा और फर्जी नियुक्ति पत्र बनाया.

आरोपी युवती ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी तय हो चुकी थी, लेकिन ससुराल वालों की शर्त थी कि उनको अफ़सर बहू चाहिए. मतलब अपने बेटे की शादी अफसर लड़की से करेंगे. ससुराल वालों की डिमांड पूरी करने के लिए युवती ने BSF का फर्जी नियुक्ति पत्र तैयार किया था.कोल्हापुर निवासी युवती सनमति क्षिप्रे 21 फरवरी को BSF अकादमी में फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर असिस्टेंट कमांडेंट का प्रशिक्षण लेने पहुंची. नियुक्ति पत्र पर डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल बीएसएफ डीके उपाध्याय के हस्ताक्षर थे. यह देख BSF अफसर हैरान रह गए. दरअसल, उपाध्याय दस साल पहले साल 2012 में रिटायर हो चुके थे. BSF अफसरों इस युवती को लेकर आंतरी पुलिस थाना पहुंचे और FIR दर्ज कराई. पुलिस पूछताछ में युवती ने बताया कि गोवा में रहने वाले BSF के रिटायर्ड अफ़सर ने ढाई तोला सोना और 20 हजार रुपए लेकर नियुक्ति पत्र दिया है.

पुलिस इस तथ्य की पुष्टि करने कोल्हापुर और गोव पहुंची, लेकिन जांच में यह कहानी झूंठी निकली. आखिर में पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो युवती ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. युवती ने बताया कि उसने साफ्टवेयर BSF की चयन सूची में हेरफेर कर नाम जोड़ा था और फिर फर्जी नियुक्ति पत्र बनाया था. युवती ने बताया कि जिस लड़के से उसकी शादी तय हुई है वो अफ़सर बहू चाहते हैं. शादी के लिए उसने फर्जीवाड़ा किया, लेकिन ससुराल वालों ने ज़िद कर ली कि बहू BSF में जॉइन कर लेगी, उसके बाद शादी करेंगे. लिहाज़ा वो ट्रेनिंग के लिए चली आई, लेकिन उसकी चालाकी पकड़ी गई.

Related posts

काकभुशुंडी ताल, माना जाता है सबसे पहले इस जगह गरुड़ को सुनाई गई थी रामायण

News Blast

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण चीन के प्रॉडक्ट को लेकर कर सकती हैं घोषणा, भारत -चीन विवाद इस समय चर्चा में

News Blast

78% पैरेंट्स नहीं भेजना चाहते बच्चों को अभी स्कूल, नौकरीपेशा पैरेंट्स ज्यादा चिंतित; 67% बच्चों को नहीं पसंद आई ऑनलाइन पढ़ाई

News Blast

टिप्पणी दें