May 31, 2024 : 3:00 AM
Breaking News
खेल

राजीव गांधी खेल रत्न समेत अन्य नेशनल अवार्ड के लिए पहली बार ऑनलाइन आवेदन मंगाए, 3 जून आखिरी तारीख

  • इस साल के अर्जुन अवॉर्ड और खेल रत्न के लिए जनवरी 2016 से दिसंबर 2019 तक के प्रदर्शन पर विचार किया जाएगा
  • पिछली बार पैरालिम्पिक में रजत पदक जीतने वाली दीपा मलिक और रेसलर बजरंग पूनिया को राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड मिला था

दैनिक भास्कर

May 05, 2020, 06:32 PM IST

खेल मंत्रालय ने कोरोनावायरस की वजह से इस बार राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के दावेदारों से नामांकन ई-मेल से मंगाए हैं। आमतौर पर नामांकन भेजने की प्रक्रिया अप्रैल में ही शुरू हो जाती है। लेकिन इस बार लॉकडाउन की वजह से मई में आवेदन मांगे गए हैं।
मंत्रालय ने इसके लिए सर्कुलर जारी किया है। इसके मुताबिक, कोरोनावायरस महामारी के कारण पूरा देश लॉकडाउन है। ऐसे में नामांकन के दस्तावेज डाक के जरिए भेजने की बजाए दावेदार संबंधित एसोसिएशन के अधिकारियों की सिफारिश से जुड़े दस्तावेज और आवेदन की स्कैन कॉपी ई-मेल के जरिए सीधे खेल मंत्रालय को भेजें।

नामांकन जमा कराने की आखिरी तारीख तीन जून

ऑनलाइन नामांकन जमा कराने की तारीख 3 जून तय की गई है। इसके बाद अगर कोई भी कोच और खिलाड़ी नामांकन भेजता है तो उसके नाम पर विचार नहीं किया जाएगा। 

खेल दिवस पर राष्ट्रपति देते हैं पुरस्कार

हर साल 29 अगस्त को हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यान चंद की जयंती पर राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर राष्ट्रपति भवन में आयोजित सादे समारोह में राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन अवॉर्ड, द्रोणाचार्य अवॉर्ड और ध्यानचंद पुरस्कार दिया जाता है।

कोचिंग में योगदान के लिए द्रोणाचार्य पुरस्कार

खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड खिलाड़ियों को दिए जाते हैं, जबकि द्रोणाचार्य पुरस्कार कोचिंग के क्षेत्र में योगदान के लिए दिया जाता है। इसके अलावा ध्यान चंद पुरस्कार लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए मिलता है। इस साल के अर्जुन अवॉर्ड और खेल रत्न के लिए जनवरी 2016 से दिसंबर 2019 तक के प्रदर्शन पर विचार किया जाएगा।
डोपिंग में फंसे खिलाड़ी आवेदन नहीं कर सकते 
ऐसे खिलाड़ी राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए आवेदन नहीं भेज सकते हैं, जिन्हें नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी यानी नाडा ने डोपिंग का दोषी पाया हो या उनके खिलाफ जांच चल रही है। 
पिछले साल पहलवान बजरंग पूनिया को खेल रत्न मिला था
खेल रत्न भारत का सर्वोच्च खेल पुरस्कार है। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर इसका नाम रखा गया है। हर साल देश के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को यह दिया जाता है। पुरस्कार के साथ खिलाड़ी को 7.5 लाख रुपए और एक प्रतिमा दी जाती है। वहीं, अर्जुन अवॉर्ड जीतने वाले खिलाड़ी को पांच लाख रुपए दिए जाते हैं।

पिछले साल पैरालिंपियन दीपा मलिक और पहलवान बजरंग पूनिया को यह पुरस्कार मिला था।

Related posts

गंभीर ने कहा- धोनी भी इंसान, उन्होंने भी कई बार मैदान पर आपा खोया; पर दूसरे कप्तानों की तुलना में बेहद शांत हैं

News Blast

दुनियाभर के क्रिकेटर कुछ भी कहें, पर मुख्य बात यह है कि क्या गांगुली आईसीसी में जाने को तैयार हैं?

News Blast

टीम इंडिया की नई किट स्पॉन्सर एमपीएल होगी; हर मैच देगी 65 लाख

News Blast

टिप्पणी दें