April 15, 2024 : 5:48 PM
Breaking News
खेल

गंभीर ने ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट में नंबर-1 होने पर सवाल उठाए, कहा- कुछ सालों में भारतीय टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया

  • भारतीय टेस्ट टीम अक्टूबर 2016 से लगातार आईसीसी वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर-1 बनी हुई थी
  • टीम इंडिया की रेटिंग 114 है, वह ऑस्ट्रेलिया से 2 और न्यूजीलैंड से सिर्फ 1 पॉइंट पीछे है

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 07:26 AM IST

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के रैंकिंग सिस्टम पर सवाल उठाए हैं। हाल ही में जारी टेस्ट रैंकिंग में भारत को पछाड़कर ऑस्ट्रेलिया नंबर एक पर पहुंचा है। जबकि भारतीय तीसरे नंबर पर फिसल गई है। गंभीर का कहना है कि हमारी टीम ने कुछ सालों में टेस्ट में काफी प्रभाव छोड़ा है। हमने घर से बाहर भी जीत हासिल की है। लेकिन उपमहाद्वीप में ऑस्ट्रेलिया का रिकॉर्ड निराशाजनक है।

भाजपा सांसद गंभीर ने आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप के पॉइंट सिस्टम पर भी सवाल खड़े किए। गंभीर के मुताबिक घर और विदेश में मिली जीत पर बराबर अंक नहीं मिलने चाहिए। दोनों के लिए अलग नियम बनने चाहिए।

टेस्ट चैम्पियनशिप में भारत टॉप पर
भारतीय टीम ने अक्टूबर 2016 के बाद पहली बार टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 का स्थान गंवाया है। टीम अब 114 रेटिंग पॉइंट के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है। भारत अब ऑस्ट्रेलिया से 2 और न्यूजीलैंड से 1 अंक पीछे है। हालांकि, भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप में अब भी 360 पॉइंट के साथ शीर्ष पर बरकरार है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने टी-20 में भी पहले स्थान पर कब्जा जमा लिया है। भारतीय टीम यहां भी तीसरे स्थान पर है।

ताजा रैंकिंग में 2016-17 के रिकॉर्ड हटाने से ज्यादा बदलाव हुआ
आईसीसी ने कहा कि भारतीय टीम ने 2016-17 में रिकॉर्ड 12 टेस्ट में जीत दर्ज की थी और सिर्फ एक मुकाबला हारा था। विराट कोहली की कप्तानी में टीम ने इस दौरान ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ सभी 5 टेस्ट सीरीज जीती थीं। इसी दौरान ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका और भारत से सीरीज गंवाई थी। आईसीसी ने नए चार्ट में 2016-17 के रिकॉर्ड हटा दिए हैं, इस कारण रैंकिंग में ज्यादा बदलाव देखने को मिले। मई 2019 से अब तक के सभी 100 प्रतिशत और पिछले 2 साल के आधे टेस्ट को काउंट किया है।

Related posts

शादी का झांसा देकर विवाहिता से रिश्तेदार ने किया दुष्कर्म

News Blast

फीफा ने सदस्यों के लिए 11 हजार करोड़ रु. के रिलीफ फंड को मंजूरी दी, 211 देशों में से हर एक को 7.4 करोड़ रु. मिलेंगे

News Blast

मंत्रालय की गाइडलाइंस के बाद कोर्ट पर लौटे खिलाड़ी; अक्षय सेन का शेड्यूल तैयार, तकनीक को बेहतर बनाने पर फोकस करेंगे

News Blast

टिप्पणी दें