April 15, 2024 : 5:25 PM
Breaking News
लाइफस्टाइल

खाने में रंग और स्वाद देने के अलावा वजन कम करने में भी मददगार है हल्दी,जानें इसके औषधीय गुण

दैनिक भास्कर

Feb 16, 2020, 10:27 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. भारतीय भोजन में हल्दी की एक जगह रही है। इससे खाने को रंग तो मिलता ही है, भीना-भीना स्वाद भी मिलता है। लेकिन रंग व स्वाद से भी बढ़कर हल्दी अपने औषधीय गुणों के लिए ज्यादा जानी जाती है। इसका इस्तेमाल वजन कम करने के लिए भी किया जा सकता है। आइए जानते है डाइट एंड वेलनेस एक्सपर्ट डॉ. शिखा शर्मा से कि आखिर यह वजन कम करने में किस तरह से मददगार होती है?

इंसुलिन रेजिंस्टेंस को कम करती है हल्दी
हल्दी का सबसे बड़ा गुण है इंसुलिन रेजिस्टेंस की स्थिति को कंट्रोल में रखना। यह वह स्थिति होती है, जब कोशिकाएं इंसुलिन नामक हॉर्मोन पर सही तरीके से प्रतिक्रिया नहीं कर पातीं। इस स्थिति में न केवल डायबिटीज की आशंका बढ़ती है, बल्कि यह मोटापे का भी एक कारण बनती है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नामक तत्व इंसुलिन रेजिस्टेंस की स्थिति को रोकता है।

शरीर में पित्त के उत्पादन को बढ़ाती है हल्दी
हल्दी का एक और अहम काम है पेट में पित्त के उत्पादन को बढ़ाना। पित्त पाचन में काम आने वाला एक अहम पाचक रस होता है जो शरीर में जमा फैट (वसा) को इमल्सीफाई करता है। इमल्सीफाई करने का मतलब है वसा को तोड़कर ऊर्जा में बदलना। इससे शरीर के मेटाबॉलिज्म में भी सुधार होता है। मेटाबॉलिज्म बेहतर होने से वजन को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। जिनका मेटाबॉलिज्म धीमा होता है, उनका वजन ज्यादा होता है।

कैसे लें हल्दी?
यह तय होने के बाद कि हल्दी के सही सेवन से वजन को कंट्रोल किया जा सकता है, बात आती है इसको लेने के तरीकों की। अपनी रोजाना की डाइट में इसे शामिल करने के अलावा कुछ आसान तरीकों से भी हल्दी का नियमित सेवन किया जा सकता है।

1.दूध के साथ – यह न केवल सबसे आसान तरीका है, बल्कि सबसे प्रभावी भी। दूध को पांच से सात मिनट तक हल्की आंच पर गर्म करें। एक गिलास दूध में आधे से एक चौथाई चम्मच तक हल्दी पाउडर मिलाकर पिएं। इसे सुबह के समय या रात को सोने से पहले कभी भी पिया जा सकता है।

2.चाय के रूप में – डेढ़ कप पानी में एक चम्मच हल्दी पाउडर को मिलाकर इतना उबाल लीजिए कि एक कप पानी ही बचा रह जाए। उसे गुनगुना करके उसमें थोड़ा-सा नींबू का रस और चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर मिला लीजिए। अब छानकर पीजिए।

3.सूप के साथ – वेजिटेबल सूप या आप जो भी सूप पीना चाहते हैं, उसमें भी हल्दी लेना एक अच्छा तरीका है। एक बाउल सूप में आधा चम्मच हल्दी पाउडर मिला लीजिए। इसमें एक चुटकी भर काली मिर्च मिलाकर लीजिए।

4.सलाद में डालकर – समान मात्रा में हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और जीरा पाउडर को मिलाकर इस मिश्रण को नमक रखने वाली डिब्बी (साल्ट शेकर) में भरकर रख लीजिए। जब भी आप सलाद खाएं, नमक के साथ इसे छिड़क लीजिए। इसी मिश्रण को रायते में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे पता लगाएं कि हल्दी शुद्ध है या मिलावटी?
बेहतर नतीजे हासिल करने के लिए जरूरी है कि शुद्ध हल्दी का ही सेवन किया जाए। हल्दी की जांच के लिए आप एक आसान टेस्ट कर सकते हैं। कांच के एक गिलास में हल्का गुनगुना पानी लीजिए। उसमें एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर डाल दीजिए और हिलाए बगैर ऐसे ही छोड़ दीजिए।

करीब 20 मिनट के बाद उस गिलास को चेक कीजिए। अगर पूरा हल्दी पाउडर तले में बैठ जाए और पानी वैसा ही साफ बना रहे तो इसका मतलब है कि हल्दी शुद्ध है। अगर पानी थोड़ा धुंधला हो जाए तो हल्दी में कुछ मिलावट हो सकती है।

Related posts

मजबूत हड्डियों के लिए सुबह धूप में बैठें, दूध से बनी चीजें और हरी सब्जियां खाएं; एक घंटे फिजिकल एक्टिविटी जरूर करें

News Blast

आज का जीवन मंत्र: मन में शंका हो और कोई योग्य व्यक्ति मिले तो उससे अपने सवाल जरूर पूछ लें, संकोच न करें

Admin

गुरु शिष्य की गलतियां सुधारकर योग्यता को निखारते हैं, इसीलिए हर स्थिति में गुरु का सम्मान करना चाहिए और सभी सलाह मानें

News Blast

टिप्पणी दें