July 25, 2024 : 9:27 PM
Breaking News
खबरें ताज़ा खबर मनोरंजन राष्ट्रीय

एल्विश यादव ने जीता बिग बॉस ओटीटी सीजन-2

एल्विश यादव

बिग बॉस के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी वाइल्ड कार्ड एंट्री ने ख़िताबी जीत हासिल की है.

इस सीजन के टॉप-5 फ़ाइनलिस्ट थे- एल्विश यादव, अभिषेक मल्हार, मनीषा रानी, बेबिका धुर्वे और पूजा भट्ट.

सबसे पहले बाहर हुईं पूजा भट्ट और इसके बाद बेबिका भी विनर की रेस से बाहर हो गईं.

टॉप-3 में एल्विश, अभिषेक के अलावा मनीषा रानी ने भी जगह बनाई थी. लेकिन वे टॉप-2 में जगह नहीं बना पाईं.आख़िर में मुक़ाबला एल्विश और अभिषेक के बीच हुआ. और बाज़ी एल्विश के हाथों में आई. उन्हें ट्रॉफ़ी और 25 लाख रुपये इनाम में दिए गए हैं.

एल्विश और अभिषेक दोनों चर्चित यू-ट्यूबर्स हैं और सोशल मीडिया पर उनके फ़ैन्स की संख्या लाखों में है.

और शायद इसी रेस में एल्विश की लोकप्रियता अभिषेक पर भारी पड़ी. अभिषेक सीज़न के शुरू से ही बिग बॉस के घर में थे.

उन्होंने कई बार इसका ज़िक्र भी किया कि इस कारण वे विनर बनने के हक़दार हैं. बाद में एल्विश और अभिषेक में इस बात को लेकर बहस भी हुई.

फ़ाइनल से पहले अभिषेक बीमार पड़ गए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. लेकिन फ़ाइनल में वे वापस शो में पहुँचे.

लेकिन वे एल्विश को वोटिंग में पीछे नहीं छोड़ पाए.

एल्विश यादव

एल्विश यादव एक चर्चित यूट्यूबर हैं. वे सोशल मीडिया पर काफ़ी लोकप्रिय हैं.

यूट्यूब पर उनके 16 मिलियन फ़ॉलोअर हैं, तो इंस्टाग्राम पर उनके 13 मिलियन से ज़्यादा फ़ैन्स हैं.

यूट्यूब पर एल्विश यादव के दो चैनल हैं. एक का नाम है एल्विश यादव और एक का नाम है एल्विश यादव व्लॉग्स.

एल्विश यादव यूट्यूब पर फ़नी वीडियोज़ बनाते हैं. उनके रोस्टिंग वीडियोज़ भी काफ़ी लोकप्रिय हैं.

अपनी हरियाणवी बोली और ख़ास अंदाज़ के कारण वे युवाओं में ख़ासे लोकप्रिय हैं।

एल्विश यादव यूट्यूब पर फ़नी वीडियोज़ बनाते हैं. उनके रोस्टिंग वीडियोज़ भी काफ़ी लोकप्रिय हैं.

अपनी हरियाणवी बोली और ख़ास अंदाज़ के कारण वे युवाओं में ख़ासे लोकप्रिय हैं.

एल्विश गाने भी गाते हैं और एक्टिंग भी करते हैं,

14 सितंबर 1997 को हरियाणा के गुरुग्राम में जन्मे एल्विश यादव ने वर्ष 2016 में अपना यूट्यूब चैनल खोला था.

एल्विश यादव ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बी कॉम किया है. पहले एल्विश यादव का नाम सिद्धार्थ यादव था.

लेकिन उनके बड़े भाई चाहते थे कि उनका नाम एल्विश यादव हो.

अपने बड़े भाई की असामयिक मौत के बाद उन्होंने अपना नाम एल्विश यादव रख लिया.

यूट्यूब ने एल्विश यादव को जल्द ही काफ़ी लोकप्रिय बना दिया.

एल्विश कारों के बड़े शौकीन हैं और माना जाता है कि उनके पास कई लग्ज़री गाड़ियाँ हैं.

एल्विश यादव

ख़ास रहा ये सीज़न

पहली बार सलमान ख़ान बिग बॉस ओटीटी के होस्ट बने थे. इसके पहले सीजन के होस्ट थे करण जौहर.

सलमान ख़ान के बिग बॉस ओटीटी का होस्ट बनने से शो की लोकप्रियता में काफ़ी इजाफ़ा हुआ.

इस बार बिग बॉस ओटीटी के सीजन में यू-ट्यूबर्स और सोशल मीडिया एंफ़्लूएंसर्स का बोलबाला रहा.

इस सीजन में निर्माताओं ने इन एंफ़्लूएंसर्स को अच्छा-ख़ास भाव भी दिया.

बिग बॉस ओटीटी के इस सीज़न के दौरान कई बार यूट्यूबर्स को गेस्ट के रूप में घर में आने का मौक़ा भी मिला.

ऐसा लगा इस बार का शो सोशल मीडिया एंफ़्लूएंसर्स को ही समर्पित था. इसी कारण कभी भी ये नहीं लगा कि ये सीजन उनके अलावा कोई और भी जीत सकता है.

इसका अंदाज़ा इससे भी लगाया जा सकता है कि टॉप-3 में पहुँचने वाले तीनों सोशल मीडिया एंफ़्लूएंसर्स ही थे.

सबसे ज़्यादा देर तक टिकी रहीं अभिनेत्री पूजा भट्ट. हालाँकि वो भी कभी जीतने वालों की रेस में नहीं रहीं.

कई बार इन सोशल मीडिया एंफ़्लूएंसर्स ने शो के दौरान ये जताने की भी कोशिश की कि बिग बॉस ने उनके फ़ैन्स को शो से जोड़ने के लिए उन्हें घर में बुलाया है.

अभिषेक मल्हान तो ये कहते सुने गए कि बिग बॉस शो को उन्होंने नए फ़ैन्स दिए हैं और इस कारण उन्हें ये शो जीतना चाहिए.

कई बार इन प्रतिभागियों ने बाक़ी लोगों को ताने भी मारे और उनसे उलझे भी.

एक बार तो वीकेंड शो के दौरान सलमान ने पहले एल्विश और फिर अभिषेक को काफ़ी फटकार भी लगाई. लेकिन हुआ वही, जिसका अंदाज़ा लगाया जा रहा था.

आकांक्षा पुरी और जाड हदीद का किस

बिग बॉस ओटीटी सीजन-2 का सबसे विवादित क्षण रहा जाड हदीद और आकांक्षा पुरी का किस.

आकांक्षा पुरी टीवी और मॉडलिंग की दुनिया की चर्चित चेहरा हैं.

उन्हें अपने बिंदास रवैए के कारण भी जाना जाता है.

एक टॉस्क के दौरान आकांक्षा पुरी जाड हदीद को किस करने को तैयार हो गईं.

बाद में इसको लेकर काफ़ी हंगामा हुआ. आकांक्षा पुरी ने भी जाड हदीद पर आरोप लगाया कि उन्होंने सीमा पार की.

सलमान ने अपने शो में दोनों की क्लास लगाई.

इसका सबसे ज़्यादा नुक़सान आकांक्षा पुरी को हुआ और वे बहुत जल्द शो से बाहर हो गईं.

Related posts

भास्कर इंटरव्यू:सवाल- विधायकों ने हाईकमान से मिलकर आपको प्रदेशाध्यक्ष बनाने की मांग क्यों रखी, हुड्‌डा-मैं प्रदेशाध्यक्ष क्यों बनूंगा, विधायकों की मांग वे जानें, मैंने किसी से नहीं कहा मुझे प्रदेशाध्यक्ष बनाओ

News Blast

देशभर के निजी अस्पतालों में कोरोना का इलाज पड़ रहा भारी, हॉस्पिटल रोज 1 लाख रु. तक मांग रहे, पीपीई किट की वसूली भी मरीज से

News Blast

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा- मानसून में जिस तरह ऑफिस तोड़ा गया, उसे नजरअंदाज नहीं कर सकते, कल से याचिकाकर्ता की दलीलें सुनेंगे

News Blast

टिप्पणी दें