July 16, 2024 : 3:11 AM
Breaking News
Other

पिता बीच में ही छोड़कर चले गए, उनके सपने के लिए की मेहनत; कॉमर्स टॉपर हर्षिता की कहानी

 

MP Board Result News: मध्य प्रदेश के खरगोन की हर्षिता पांडे ने 12वीं में कॉमर्स में टॉप किया है.

MP Board Result News: मध्य प्रदेश के खरगोन की हर्षिता पांडे ने 12वीं में कॉमर्स में टॉप किया है.

खरगोन. खरगोन शहर के निजी स्कूल प्रिय दर्शनी की छात्रा हर्षिता पाण्डे ने 12वीं में कॉमर्स में टॉप किया है. स्थानीय जैतापुर इलाके के किसान की बेटी की इस उपलब्धि पर घर में खुशी का माहौल है. प्रदेश में पहला स्थान बनाते हुए हर्षिता ने कॉमर्स में  500 में से 480 अंक हासिल किए. कड़ी मेहनत और पढ़ाई कर मुकाम हासिल करने वाली इस छात्रा का सपना सीए बनना है. उनका घर शुक्रवार को खुशियों से झूम उठा.हालांकि, हर्षिता और पूरे घर को मलाल है कि 25 मार्च को उनके किसान पापा संतोष पाण्डेय का निधन हो गया था. अपने परिणाम से खुश हर्षिता ने खास बातचीत की. हर्षिता का कहना है कि आज बहुत खुशी हुई है. इतनी उम्मीद नहीं थी, लेकिन इस उपलब्धि से परिजन टीचर सभी खुश हैं. पापा का सपना था किसान की बेटी सीए करे. पापा का हर सपना पूरा करूंगी. हर्षिता बताती हैं कि लक्ष्य को पाने के लिए उन्होंने दिन में नियमित 6 घंटे पढ़ाई की. परीक्षा के समय तो घरवाले मुझे पढ़ाई करने से रोकने लगे. हर्षिता का कहना है कि उन्हें जिला टॉपर होने की तो उम्मीद थी, लेकिन प्रदेश का टॉपर होने की कोई आशा नहीं थी. वे अपनी उपलब्धियों के लिए स्वर्गीय पिता, परिजनों और टीचर को श्रेय दे रही हैं.

मध्य प्रदेश में कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं का रिजल्ट आज घोषित हुआ. कक्षा 10वीं-कक्षा 12वीं की मेरिट सूची में छात्राओं ने बाजी मारी. वहीं फर्स्ट डिवीजन में कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं में भी छात्राएं छात्रों से आगे हैं. कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं में फर्स्ट डिवीजन में पास होने वाली छात्राओं की संख्या ज्यादा है. कक्षा 12वीं में 3,25,572 परीक्षार्थी फर्स्ट डिवीजन में हुए हैं. 1,30,952 स्टूडेंट्स सेकेण्ड डिवीजन से पास हुए हैं. 342स्टूडेंट्स थर्ड डिवीजन से पास हुए हैं. फर्स्ट डिवीजन में भी लड़कियों ने बाजी मारी है. 1,74,368 छात्राएं फर्स्ट डिवीजन से पास हुई हैं. 1,51,204 छात्र फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं. सेकंड डिवीजन लाने वालो में छात्रों की संख्या ज्यादा है. 73,344 छात्र सेकंड डिवीजन में आए हैं, तो वहीं 57,608 छात्राओं को सेकंड डिवीजन मिली.

Related posts

जापान में ओमिक्रॉन के डर से बूस्टर डोज लगना शुरू, जानें भारत की क्या है स्थिति

News Blast

ट्रिब्यूनल में नियुक्तियों के लिए एक हफ्ते की मोहलत,

News Blast

आम लोगों की जेब पर झटका, इस राज्य में टमाटर और पेट्रोल से ज्यादा सस्ती है शराब

News Blast

टिप्पणी दें