May 25, 2022 : 3:35 AM
Breaking News
MP UP ,CG Other अन्तर्राष्ट्रीय करीयर क्राइम खबरें खेल टेक एंड ऑटो ताज़ा खबर बिज़नेस ब्लॉग मनोरंजन महाराष्ट्र राज्य राष्ट्रीय लाइफस्टाइल हेल्थ

इस हिंदू लड़के ने की मोरक्को की मुस्लिम लड़की से शादी, कहा- न मैं धर्म बदलूंगा, न उसे बदलने दूंगा

ग्वालियर. ‘महजब, मुल्क और जुबान प्यार में कभी बाधा नहीं बनते,’ ये कहावत एक बार फिर सही साबित हुई. अफ्रीकी देश मोरक्को की मुस्लिम लड़की को अपने मुल्क से 8 हजार किलोमीटर दूर ग्वालियर के हिन्दू लड़के से प्यार हुआ. युवती ने प्यार की खातिर अपना मुल्क छोड़ दिया. लड़के ने भी युवती के पिता को भरोसा दिया कि वो उसका कभी धर्म परिवर्तन नहीं कराएगा. दोनों अपने-अपने धर्म-संस्क्रति का पालन करते हुए पति-पत्नी बने रहेंगे. इसके बाद मोरक्को की मुस्लिम युवती ने और ग्वालियर के हिंदू युवक ने बुधवार को एडीएम कोर्ट में शादी रचा ली. कुछ दिन में दोनों हिंदू रीति-रिवाज से भी शादी करेंगे और कोविड के बाद रिशेप्शन भी देंगे.अफ्रीकी देश मोरक्को की रहने वाली 24 साल की फादवा लैमाली प्राइवेट कॉलेज में पढ़ाई करती है. सोशल मीडिया पर तीन साल पहले उसकी पहचान ग्वालियर निवासी 26 साल के अविनाश दोहरे से हुई. सोशल मीडिया पर हुई दोस्ती जल्द ही प्यार में बदल गई, लेकिन मजहब अलग होने से दोनों चिंता में पड़ गए. दोनों ने अपने-अपने परिवार को संबंधों के बारे में बताया. फादवा लैमाली का परिवार पहले नाराज हुआ, लेकिन बाद में बेटी की जिद के आगे उन्होंने हां कह दी. बाद में दोनों के परिवार वाले राजी हो गए. इसके बाद फादवा ने अविनाश से शादी के लिए अपने देश मोरक्को से NOC मांगी थी.

फादवा और अविनाश की प्रेम कहानी में मजहब भी दीवार नहीं बन पाया. अविनाश दो बार शादी का प्रस्ताव लेकर मोरक्को गया, लेकिन फादवा के पिता अली लैमाली ने शादी के लिए साफ इनकार किया. लेकिन, दोनों इस शादी के लिए अड़ गए तो पिता ने अविनाश से भारत और हिंदू धर्म छोड़कर मोरक्को में बसने का ऑफर दिया. अविनाश ने फादवा के पिता से कहा कि न तो मैं अपना देश छोडूंगा और न ही अपना धर्म परिवर्तन करूंगा, लेकिन मैं आपकी बेटी का भी धर्म परिवर्तन नहीं कराऊंगा. उसे अपना धर्म और अपनी परंपराए उसी तरह निभाने की आजादी भारत में होगी, जैसे वह मोरक्को में निभाती आई है. अविनाश की बात सुनकर परिवार को  यकीन हो गया कि बेटी फादवा के लिए अविनाश अच्छा जीवन साथी साबित होगा. फिर परिवार रजामंद हो गया.

मोरक्को से अनुमति मिली, ग्वालियर में शादी रचाई

सप्ताहभर पहले फादवा ने मोरक्को में अपनी शादी के लिए NOC के लिए आवेदन किया था. कानूनी दस्तावेजों की प्रक्रिया पूरी होने के बाद मोरक्को से अनुमति मिल गई. इसके बाद ग्वालियर की SDM कोर्ट में शादी प्रमाणपत्र के लिए आवेदन किया. बुधवार को भी प्रेमी जोड़ा एडीएम कोर्ट पहुंचे जहां एडीएम एचबी शर्मा की मौजूदगी में दोनों ने शादी कर ली. बता दें, मोरक्को उत्तर अफ्रीका का एक राजशाही देश है. मोरक्को मुस्लिम है, जिसकी भाषा अरबी है. रबात शहर मोरक्को की राजधानी है. मोरक्को में 99 फीसदी आबादी मुस्लिम है.

Related posts

कोरोना काल में आलिया भट्ट ने शुरू की ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ की शूटिंग, कास्ट एंड क्रू मेंबर्स का वक्त बचाने के लिए भंसाली रात में कर रहे काम

News Blast

Kisan Andolan Live: जंतर-मंतर पहुंचा किसानों का समूह, कृषि कानूनों के खिलाफ बैठी ‘संसद’

Admin

समय अच्छा हो या बुरा, हर हाल में हमारे भाव एक जैसे रहना चाहिए, सुख के दिनों में ज्यादा खुश नहीं होना चाहिए और दुख के दिनों में दुखी होने से बचें

News Blast

टिप्पणी दें