May 29, 2024 : 1:32 PM
Breaking News
लाइफस्टाइल

फेस्टिव सीजन में रखें स्किन और बालों का ध्यान, एक्सपर्ट से जानें होली खेलने से पहले और बाद में क्या करें?

दैनिक भास्कर

Mar 08, 2020, 01:21 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. रंगों का त्योहार होली आते ही मन में उत्साह और उमंग भर जाती हैं। इसके रंग से पूरा माहौल रंगीन हो जाता हैं, लेकिन होली में सेहत का ख्याल रखना भी जरूरी है। ऐसे में हम छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर ज्यादा बेहतर तरीके से इस त्योहार का आनंद उठा सकते हैं। आइए जानते है आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ. अबरार मुल्तानी से होली खेलने से पहले और बाद में करने वाली चीजों के बारे में।

  • होली खेलने जाने से पहले त्वचा पर कोई तेल, घी या फिर मलाई लगाकर निकलें। इससे त्वचा पर रंगों का बुरा असर नहीं पड़ेगा और उन्हें निकालना भी आसान होगा। होठों पर अच्छी तरह से पेट्रोलियम जेली लगा लें जिससे इन पर रंग नहीं चिपकेगा।
  • रंग से बाल रूखे, बेजान और कमजोर हो सकते हैं। इसके लिए बालों में तेल लगाकर ही होली खेलें। होली खेलने के दौरान बाल खुले न रखें। खुले बाल ज्यादा रंग सोखते हैं, जिससे खोपड़ी पर रंगों का ज्यादा जमाव होता है। होली खेलने के दौरान बालों को टोपी या स्कार्फ से पूरी तरह ढंक लेना बेहतर होता है।
  • यदि होली खेलते वक़्त आंखों में रंग चला जाए तो तुरंत आंखों को साफ ठंडे पानी से धो लें। कॉपर सल्फेट युक्त रंग (खासकर हरा केमिकल रंग) आंखों के लिए घातक होते हैं। सिल्वर रंग (सफेदा) का इस्तेमाल भी न करें। इसमें एल्युमीनियम ब्रोमाइड होता है, जो त्वचा के लिए नुकसानदेह है।
  • त्वचा पर लगे रंग को बेसन, आटे, दूध, हल्दी व तेल के मिश्रण से बना उबटन बार-बार लगाकर और उतारकर साफ़ करें। यदि उबटन के पूर्व उस स्थान को नींबू से रगड़कर साफ़ कर लिया जाए तो रंग और जल्दी छूट जाएंगे। होली के रंगों को बालों से हटाने के लिए बेबी शैम्पू या प्राकृतिक शैम्पू का इस्तेमाल करें।

ऐसे उतारें भांग का नशा
अगर किसी को भांग का नशा ज्यादा चढ़ जाए तो इसका सबसे आसान और प्रचलित उपाय तो यह है कि उसे नींबू का रस या नींबू पानी पिलाएं। इसके अलावा भी ये दो उपाय हैं :

  • भांग का नशा ज्यादा चढ़ गया हो तो करीब 30 ग्राम पकी इमली को एक गिलास पानी में भिगोकर, मथकर, छानकर और उसमें लगभग 30 ग्राम गुड़ मिलाकर पिएं।
  • भांग के नशे से होना वाली बेहोशी दूर करने के लिए सरसों का तेल गर्म करके गुनगुने तेल की बूंदें दोनों कानों में डाल सकते हैं।

Related posts

पहली बार सामने आया कोरोना पीड़ित का तड़पते हुए वीडियो, 39 साल की तारा ने कहा – छाती में शीशे चुभ रहे, सांस लेना जंग लड़ने जैसा

News Blast

गुप्त नवरात्र:इस बार 8 दिन के नवरात्र; पंचमी पर त्रिपुर सुंदरी व कमला, सप्तमी पर देवी तारा और काली की पूजा कर सकते हैं

News Blast

14 साल से खांस रही महिला के फेफड़े में मुर्गी की हड्‌डी फंसी मिली, हॉस्पिटल पहुंची थी दूसरी बीमारी का इलाज कराने; सीटी स्कैन में दिखी बोन

News Blast

टिप्पणी दें