April 17, 2024 : 7:31 AM
Breaking News
खेल

खेल मंत्री रिजिजू ने कहा- फुटबॉल मेरे लिए जुनून की तरह, इसे बढ़ावा देने के लिए स्कूलों तक ले जाना होगा

  • खेल मंत्री किरन रिजिजू एआईएफएफ और साई द्वारा ऑनलाइन कोचिंग को लेकर शुरू किए गए प्रोग्राम के दौरान यह बात कही
  • तीन मई तक चलने वाले इस ऑनलाइन कोर्स में करीब 1000 लोग जुड़े और कई एक्सपर्ट ने उन्हें कोचिंग से जुड़ी बारीकियां समझाईं

दैनिक भास्कर

May 01, 2020, 09:44 PM IST

केंद्रीय खेल मंत्री किरन रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि देश में फुटबॉल को बढ़ाने के लिए स्थानीय स्तर पर लीग को विकसित करना होगा औऱ इसके लिए पहला कदम खेल को स्कूलों तक ले जाना होगा। रिजिजू ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ) और स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साई) द्वारा लॉकडाउन के दौरान शुरू किए गए ऑनलाइन कोचिंग कोर्स के एक सेशन के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि इस ऑनलाइन कोर्स से पूरे देश में कोचिंग से जुड़े लोगों को फायदा होगा।

इस ऑनलाइन कोर्स में करीब 1000 लोग जुड़े और कई एक्सपर्ट ने उन्हें कोचिंग से जुड़ी बारीकियां समझाईं। यह ऑनलाइन कोर्स तीन मई तक चलेगा। खेल मंत्री ने एआईएफएफ और खिलाड़ियों द्वारा कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए प्रधानमंत्री केयर फंड में मदद देने की भी तारीफ की।
फुटबॉल मेरे लिए जीने का तरीका: रिजिजू
रिजिजू ने कहा- फुटबॉल मेरे लिए एक जुनून जैसा है और यह जीने का तरीका भी है। आपको यह जानना जरुरी है कि मैं जिस क्षेत्र से आता हूं वहां इस खेल को काफी पसंद किया जाता है। उन्होंने कहा कि हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फुटबॉल का माहौल तैयार करने के प्रयास में कामयाब रहे हैं। हमें इसका फायदा उठाना है और सबसे बड़ा कोचिंग प्रोग्राम शुरू करना है। उन्होंने कहा कि जब हम भारत में खेल संस्कृति को बढ़ावा देने की बात करते हैं तो फुटबॉल को नजरअंदाज नहीं कर सकते। हमें खेल में ज्यादा से ज्यादा समय देने की जरुरत है। फुटबॉल खेल से अधिक है।  

Related posts

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने अस्थायी तौर पर खिलाड़ियों और स्टाफ की सैलरी में 50% कटौती की, जुलाई से फैसला लागू होगा

News Blast

जापानी तलवारबाज रेयो मियाकी फिटनेस और पैसों के लिए फूड डिलिवरी बॉय बने, लंदन ओलिंपिक में सिल्वर जीत चुके

News Blast

43 साल की मारिया सिसाक रचेंगी इतिहास:विम्बलडन में पुरुष सिंगल्स फाइनल में करेंगी अंपायरिंग, 144 साल में पहली बार महिला अंपायर को यह जिम्मेदारी

News Blast

टिप्पणी दें