March 4, 2024 : 1:22 PM
Breaking News
करीयर

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने पीजी स्टूडेंट्स को दी सलाह, पढ़ाई के लिए ई-पीजी पाठशाला का इस्तेमाल करने को कहा

  • एमएचआरडी द्वारा लॉन्च इस प्लेटफॉर्म पर 70 विषयों में इंटरैक्टिव ई-कंटेंट उपलब्ध है 

  • इससे पहले भी यूजीसी ने ऑनलाइन लर्निंग के लिए जारी की थी सोर्सेस की एक लिस्ट

दैनिक भास्कर

Apr 26, 2020, 10:11 AM IST

देश में कोरोनावायरस के चलते हालात गंभीर बने हुए हैं। इसकी वजह से सभी एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन बंद है, जिसके कारण पढ़ाई का काफी नुकसान हो रहा है। ऐसे में सरकार इस मुश्किल समय में ऑनलाइन प्लटेफॉर्म के जरिए पढ़ाई करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित कर कई तरह के विकल्पों के प्रति जागरूक कर रही है। इसी बीच अब केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने देश के सभी पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों को पढ़ाई के लिए ई-पीजी पाठशाला प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने को कहा है। उन्होंने कहा कि एमएचआरडी की तरफ से लॉन्च हुए इस प्लेटफॉर्म पर 70 विषयों में इंटरैक्टिव ई-कंटेंट उपलब्ध है। 

ई-बुक्स और ई-कंटेंट फ्री में उपलब्ध

इस प्लेटफॉर्म के जरिए स्टूडेंट्स फ्री में ई-बुक्स और सिलेबस बेस्ड ई-कंटेंट एक्सेस कर सकते हैं। ई-पीजी पाठशाला की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताओं में ई-अध्‍ययन , यूजीसी एमओओसी और ई-पथ्या  शामिल हैं। इससे पहले यूजीसी ने ऑनलाइन लर्निंग के लिए सोर्सेस की एक लिस्ट जारी की थी, जिसमें ई-पीजी पाठशाला को भी शामिल किया गया था। इसमें सोशल साइंस, आर्ट्स, फाइन आर्ट्स, ह्यूमैनिटीज और नेचुरल एंड मैथमेटिक साइंस में 23 हजार से अधिक मॉड्यूल हैं। 

ई-अध्‍ययन        

ई-अध्‍ययन पर देश भर में पढ़ाए जाने वाले सभी पीजी कोर्सेस के लिए 700 से अधिक ई-पुस्तकें उपलब्ध हैं। सभी ई-पुस्तकें ई-पीजी पाठशाला कोर्सेस से ली गई हैं। इस प्लेटफॉर्म पर वीडियो कंटेंट भी उपलब्ध है। 

यूजीसी एमओओसी

ये प्लेटफॉर्म स्वयं प्लेटफॉर्म के लिए पीजी सब्जेक्ट्स के कोर्स का निर्माण करता है। 

ई-पथ्या 

ये प्लेटफॉर्म स्टूडेंट्स को डिस्टेंस लर्निंग और कैंपस लर्निंग मोड के जरिए पीजी लेवल की शिक्षा हासिल करने में मदद करता है। इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद कंटेंट उम्मीदवार ऑफलाइन भी एक्सेस कर सकते हैं।

Related posts

150 किमी पैदल चलकर दर्शन करने पहुंचे देवास में मां चामुंडा के दरबार

News Blast

आटो और बैटरी आटो में किसी प्रकार का माडिफिकेशन नहीं होगा। उसमें म्यूजिक सिस्टम नहीं लगवाए जा सकेंगे। यह होने पर उसका परमिट निरस्त कर दिया जाएगा। – ऐसे आटो चालक जिनका ससाल में दो रेड लाइट जंप करने का चालान हुआ है। उनका लाइसेंस निरस्त किया जाएगा। – रिक्शा में ओवरलोडिंग करने पर चालक के साथ आटो रिक्शा मालिक को भी उत्तरदायी माना जाएगा। उस पर एक हजार रुपये का जुर्माना किया जाएगा।

News Blast

परीक्षा केंद्रों को धमकी भरे ईमेल भेजने वाले कैंडिडेट्स को ICAI ने दी सलाह, एडवाइजरी जारी कर कानूनी कार्रवाई करने की दी चेतावनी

News Blast

टिप्पणी दें