March 4, 2024 : 2:42 PM
Breaking News
लाइफस्टाइल

सिगरेट और वाटरपाइप से भी कोरोनावायरस का खतरा, केंद्र सरकार ने ट्विटर पर जानकारी साझा की; डब्ल्यूएचओ ने भी किया अलर्ट

  • केंद्र सरकार के मुताबिक, स्मोकिंग करने वालों कोरोनावायरस का खतरा ज्यादा
  • हाथ और दूषित सिगरेट होठ के सम्पर्क में आने पर संक्रमण की आशंका बढ़ जाती है

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 11:17 AM IST

हेल्थ डेस्क. क्या वाटर पाइप और सिगरेट से कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है। इस सवाल का जवाब केंन्द्र सरकार ने ट्विटर पर दिया दिया है। पीआईबी (पत्र सूचना कार्यालय) के मुताबिक, स्मोकिंग करने वालों को कोरोनावायरस का खतरा ज्यादा है। हाथ और दूषित सिगरेट जब होठों के सम्पर्क में आते हें तो वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इस दौरान हाथ में वायरस मौजूद होने पर मुंह में जा सकता है।

धूम्रपान करने वालों के फेफड़े पहले ही बीमार हैं : डब्ल्यूएचओ
स्मोकिंग से कोरोना संक्रमण के खतरे पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी आगाह किया है। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि धूम्रपान करने वालों के फेफड़े पहले ही बीमार होते हैं या उनकी क्षमता घट चुकी होती है। ऐसे में स्मोकिंग करने पर बीमारी का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है। सिगरेट पीने के दौरान हाथ होठ के सम्पर्क में आते हैं, इस दौरान कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है।

सरकार से तम्बाकू उत्पाद बैन करने की अपील

ट्विटर पर इस पोस्ट के बाद यूजर्स पीआईबी से तम्बाकू उत्पादों पर बैन लगाने की मांग कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा, क्या सरकार तम्बाकू उत्पाद पर एक महीने के लिए बैन लगा सकती है, ताकि सार्वजनिक जगहों पर लोग इसे खाकर थूकें नहीं। 

Related posts

फरवरी के तीसरे सप्ताह में विवाह, गृह प्रवेश, जनेऊ, मुंडन एवं खरीदारी के मुहूर्त

News Blast

दुनिया की सबसे विचित्र गोभी ऐसी क्यों है: इस गोभी के फूल पूरी तरह बढ़ नहीं पाते और एक-दूसरे पर चढ़ जाते हैं, इसलिए बनता है पिरामिड जैसा आकार, जानिए क्यों है यह खास

Admin

क्या बाहर से आकर नहाना और रोज कपड़े धोना जरूरी है; क्या कोरोना को रोकने में मास्क फेल साबित हो रहा है

News Blast

टिप्पणी दें