April 17, 2024 : 7:22 AM
Breaking News
लाइफस्टाइल

कोरोनावायरस से लड़ने के लिए नमक कम खाएं क्योंकि यह शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता घटाता है

  • यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल बोन में हुई रिसर्च, अधिक नमक खाने पर बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन का खतरा ज्यादा
  • ब्लड में ग्रैनुलोसाइट प्रतिरोधी कोशिकाएं इंफेक्शन से बचाती हैं, नमक अधिक होने पर ये कमजोर साबित होती हैं

दैनिक भास्कर

Mar 29, 2020, 11:38 AM IST

हेल्थ डेस्क. कोरोनावायरस से लड़ना चाहते हैं तो खाने में नमक की मात्रा कम ही रखें। खाने में नमक की अधिक मात्रा ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के साथ रोगों से लड़ने की क्षमता को घटाती है। यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल बोन में हुई रिसर्च में ये बातें सामने आई हैं। साइंस ट्रांसलेशन मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित किया अध्ययन के मुताबिक, शोधकर्ताओं ने चूहों और इंसानों दोनों पर अध्ययन किया है।

इंसान और चूहे दोनों की इम्युनिटी कम हुई

शोधकर्ताओं के मुताबिक, जिन चूहों को अधिक नमक वाला खाना दिया गया उनमें बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन ज्यादा हुआ। वहीं, शोध में शामिल किए गए जिन इंसानों ने हर दिन छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन किया उनकी भी इम्युनिटी कमजोर पाई गई। दिन में दो बार फास्ट फूड का सेवन करने से इंसान छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन कर लेते हैं।

ऐसे किया गया अध्ययन
सोडियम क्लोराइड इंसानों की रोग प्रतिरोधी क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डालता है। शोधकर्ताओं ने शामिल प्रतिभागियों को हर दिन छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन कराया। ये नमक दो फास्ट फूड में मौजूद थे जैसे दो बर्गर और दो फ्रेंच फ्राई के पैकेट। एक हफ्ते बाद शोधकर्ताओं ने प्रतिभागियों के ब्लड सैम्पल लिए और उनमें मौजूद ग्रैनुलोसाइट की मात्रा को देखा। ग्रैनुलोसाइट प्रतिरोधी कोशिकाएं होती हैं जो रक्त में मौजूद होती हैं।

नमक प्रतिरोधी क्षमता को घटाता है
नमक की उच्च मात्रा के कारण ये ग्रैनुलोसाइट प्रतिरोधी कोशिकाएं बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में कम प्रभावकारी साबित हो रही थीं। ज्यादा नमक खाने से रक्त में ग्लूकोकोरटिसोइड का स्तर भी बढ़ गया। ये पदार्थ प्रतिरोधी क्षमता पर हावी होकर उसे कमजोर कर देता है। नमक का ज्यादा सेवन करने से प्रतिरोधी क्षमता कमजोर हो सकती है।

एक दिन में 5 ग्राम नमक ही काफी 
शोध के अनुसार एक वयस्क को दिन में पांच ग्राम से ज्यादा नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। लेकिन, असलियत में लोग इससे कहीं ज्यादा नमक का सेवन हर दिन कर लेते हैं। रोबर्ट कोच इंस्टीट्यूट के एक शोध के अनुसार एक औसत आदमी दिनभर में 10 ग्राम नमक का सेवन करता है और महिला आठ ग्राम नमक का सेवन करती हैं। ज्यादा नमक का सेवन करने से रक्तचाप में बढ़ोतरी होती है और इससे दिल के दौरे व मस्तिष्काघात का खतरा बढ़ता है।

Related posts

पेनकिलर्स का विकल्प तैयार करने की कोशिश:वैज्ञानिकों ने दर्द दूर करने वाला हेडसेट बनाया, इसे सिर में पहनने के बाद मरीज ऐप के जरिए दर्द कंट्रोल कर सकेगा; ट्रायल में हुई पुष्टि

News Blast

शिष्यों के साथ गुरु एक नाला पार कर रहे थे, तभी उनका कमंडल नाले में गिर गया, सभी शिष्यों ने सोचना शुरू कर दिया कि ये कमंडल कौन निकालेगा?

News Blast

मौत का CCTV वायरल: आगे निकलने की होड़ में बस ने छह माह पहले रिटायर हुए होमगार्ड को रौंदा, पुलिस ने नाकाबंदी कर कंडक्टर को पकड़ा

Admin

टिप्पणी दें