June 18, 2024 : 1:35 AM
लाइफस्टाइल

देवी-देवताओं की मूर्तियां, शंख, जनेऊ को जमीन पर नहीं, ऊंचे स्थान पर रखना चाहिए

  • किसी को दान देने का संकल्प लिया है तो तय समय पर पूरा करना चाहिए अपना संपल्प

दैनिक भास्कर

May 09, 2020, 01:16 PM IST

पूजा-पाठ करते समय कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो हमारे पूजन कर्म जल्दी सफल हो सकती हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार पूजन से जुड़ी कुछ ऐसी चीजें हैं, जिन्हें सीधे जमीन पर नहीं रखना चाहिए। पूजा में दीपक, शिवलिंग, शालिग्राम, मणि, देवी-देवताओं की मूर्तियां, जनेऊ, सोना और शंख को ऊंचे स्थान पर रखना चाहिए जमीन पर रखने से पहले साफ कपड़ा बिछाना चाहिए।

ध्यान रखें हर माह की अमावस्या, पूर्णिमा, चतुर्दशी और अष्टमी तिथि पर मांसाहर का सेवन करने से बचना चाहिए। इन तिथियों पर विशेष पूजा-पाठ करनी चाहिए।

हमें किसी भी परिस्थिति में पिता, माता, पुत्र, पुत्री, पतिव्रता पत्नी, श्रेष्ठ पति, गुरु, अनाथ स्त्री, बहन, भाई, देवी-देवता और ज्ञानी लोगों का अनादर करने से बचना चाहिए। इन लोगों को अनादर करने पर किए गए पूजन कर्म निष्फल हो जाते हैं।

अगर किसी व्यक्ति ने कहीं दान करने का संकल्प लिया है तो तय समय पर दान का संकल्प पूरा करना चाहिए। दान देने में यदि एक दिन की देरी होती है तो दुगुना दान देना चाहिए। अगर एक माह का विलंब होता है तो दान सौगुना हो जाता है। समय के साथ दान बढ़ता रहता है इसीलिए अकारण दान देने में विलंब नहीं करना चाहिए।

हम जब भी कहीं बाहर से लौटकर घर आते हैं तो सीधे घर में प्रवेश नहीं करना चाहिए। मुख्य द्वार के बाहर ही दोनों पैरों को और हाथों को साफ पानी से धो लेना चाहिए। इसके बाद ही घर में प्रवेश करें। ऐसा करने पर घर की पवित्रता और स्वच्छता बनी रहती है और गंदगी घर के बाहर ही रहती है।

Related posts

पुराने झगड़े और विवाद खत्म करने और मिले-जुले परिणाम देने वाला रहेगा दिन

News Blast

वायरस के असर को कम करना है तो चॉकलेट खाएं, रिसर्च कहती है- यह आपको खुश रखती है और इम्युनिटी बढ़ाती है

News Blast

शेन वॉर्न – ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज स्पिनर का हुआ निधन

News Blast

टिप्पणी दें