July 24, 2024 : 4:57 PM
Breaking News
खेल

1985 की जीत ने भारतीय क्रिकेट का भविष्य तय किया, टीम इंडिया ने खुद को साबित किया था

  • मौजूदा कोच रवि शास्त्री वर्ल्ड चैम्पियनशिप में प्लेयर ऑफ द सीरीज बने, उन्हें ऑडी कार मिली थी
  • इस चैम्पियनशिप में भारत ने एक भी मैच नहीं हारा और फाइनल में पाकिस्तान को शिकस्त दी थी

दैनिक भास्कर

May 10, 2020, 07:05 AM IST

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने पिछले दिनों कहा कि 1985 में वर्ल्ड चैम्पियनशिप ऑफ क्रिकेट जीतने वाली टीम विराट कोहली की वर्तमान वनडे टीम को हरा सकती है। यह बयान कुछ लोगों को विवादास्पद लग सकता है। 1980 के लोगों के लिए यह जीत विशेष थी। शास्त्री ने ऑलराउंड प्रदर्शन किया। श्रीकांत और जावेद मियांदाद को पीछे छोड़ते हुए शास्त्री प्लेयर ऑफ द सीरीज भी बने थे। शास्त्री को ऑडी कार मिली जो उस समय काफी चर्चित रही।

1983 वर्ल्ड से पहले टीम इंडिया का वनडे में प्रदर्शन अच्छा नहीं था। 1983 वर्ल्ड कप के फाइनल में विंडीज पर अप्रत्याशित जीत ने दुनिया काे अचंभित कर दिया। इसने कई युवा खिलाड़ियों को प्रेरणा दी। 1984 में टीम ने शारजाह में एशिया कप जीता। इसी जगह एक साल बाद रोथमैंस कप जीता। इन दोनों के बीच 1985 में वर्ल्ड चैम्पियनशिप की जीत शानदार थी।

भारतीय टीम कागजों पर मजबूत नहीं थी
इसने भारतीय क्रिकेट के भविष्य को तय किया। रंगीन कपड़ों में खेल रहे खिलाड़ी और टीवी पर कवरेज ने इसे और शानदार बनाया। टीम ने फाइनल में पाकिस्तान को हराया। टीम टूर्नामेंट में एक भी मुकाबला हारी ही नहीं। इसने साबित किया कि 1983 वर्ल्ड कप में मिली जीत अप्रत्याशित नहीं थी। शास्त्री की बात आंकड़ों से बेमेल खाती है। लेकिन 1983-1985 की टीम कागजों पर मजबूत नहीं थी लेकिन खिताब जीतने के मामले में आगे थी। जब तक विराट कोहली और उनकी टीम ऐसा नहीं कर सकती और भारतीय क्रिकेट इतिहास में अपनी छाप छोड़ सकती है। तब तक 1985 और 2020 की टीमों के बीच बात चलती रहेगी।

Related posts

शेन वॉर्न – ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज स्पिनर का हुआ निधन

News Blast

गैरी कर्स्टन ने कहा- सिर्फ 7 मिनट में भारतीय टीम का मुख्य कोच बना, अनुभव नहीं था और आवेदन भी नहीं किया

News Blast

यूएई में बीसीसीआई के मेडिकल ऑफिसर कोरोना संक्रमित, नेशनल क्रिकेट एकेडमी में भी दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव

News Blast

टिप्पणी दें