December 11, 2023 : 4:17 AM
Breaking News
लाइफस्टाइल

रावल और धर्माधिकारी के साथ पांडुकेश्वर से निकली यात्रा बद्रीनाथ पहुंची, कल सुबह 4.30 बजे खुलेंगे कपाट

  • कपाट खुलने के बाद तिल के तेल से होगा बद्रीनाथ का अभिषेक, लगभग 30 लोग रहेंगे उपस्थित

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 04:39 PM IST

शुक्रवार, 15 की सुबह 4.30 बजे बद्रीनाथजी के कपाट खुलेंगे। इसके लिए गुरुवार को रावल ईश्वर प्रसाद नंबूदरी और धर्माधिकारी भुवनचंद्र उनियाल के साथ पांडुकेश्वर निकली यात्रा बद्रीनाथ पहुंच गई है।उद्धवजी, कुबेरजी, आदि गुरु शंकराचार्य की गद्दी और गाडू घड़ी यानी तिल के तेल का कलश बद्रीनाथ धाम पहुंच गए हैं। लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए इस यात्रा में शासन-प्रशासन, मंदिर समिति और कुछ क्षेत्र के कुछ ही लोग शामिल थे। पांडुकेश्वर से बद्रीनाथ की दूरी करीब 22 किमी है।

बद्रीनाथ में लगभग 30 लोग रहेंगे उपस्थित

जोशी मठ एसडीएम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इस बार कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के नियमों का पालन बद्रीनाथ में भी होगा। कपाट खुलते समय यहां बहुत कम लोगों को उपस्थित रहने की अनुमति दी गई है। यहां रावल, धर्माधिकारी, टिहरी नरेश के प्रतिनिधि, मंदिर समिति के 33 प्रतिशत से भी कम लोग और कुछ ही अनुमति प्राप्त क्षेत्रवासियों को मंदिर में जाने दिया जाएगा।

महामारी से मुक्ति के लिए करेंगे धनवंतरि भगवान की पूजा

शुक्रवार सुबह 4.30 बजे गणेशजी की पूजा के बाद कपाट खोले जाएंगे। कपाट खुलने पर बद्रीनाथ के साथ ही भगवान धनवतंरि की भी विशेष पूजा की जाएगी। धनवंतरि आयुर्वेद के देवता हैं। दुनियाभर में फैली महामारी को खत्म करने की प्रार्थना की जाएगी।

Related posts

सूर्य संक्रांति 16 जुलाई को:इस दिन तीर्थ स्नान और दान के साथ ही उगते हुए सूरज की पूजा करने से बढ़ती है उम्र और सकारात्मक ऊर्जा

News Blast

सफलता पाने के 7 सूत्र, चालीसा से सीख सकते हैं प्रोफेशनल लाइफ में कैसा हो हमारा व्यवहार और व्यक्तित्व

News Blast

दावा- फटे दूध से कोरोना से लड़ने की इम्यूनिटी मिलती है, एक्सपर्ट बाेले- कोई सबूत नहीं

News Blast

टिप्पणी दें