February 27, 2024 : 10:12 AM
Breaking News
MP UP ,CG Other अन्तर्राष्ट्रीय करीयर क्राइम खबरें खेल टेक एंड ऑटो ताज़ा खबर बिज़नेस ब्लॉग मनोरंजन महाराष्ट्र राज्य राष्ट्रीय लाइफस्टाइल

4 करोड़ की ‘बोतलों’ पर जब चला रोड रोलर

देवास. देवास में आज ये सीन जिसने भी देखा या तो वो हक्का बक्का रह गया या फिर हंसता हुआ चला गया. यहां शराब की हजारों बोतलें नष्ट कर दी गयीं. ये सारी शराब अवैध थी जो समय समय पर आबकारी विभाग ने अलग अलग जगह कार्रवाई में जब्त की थी. शराब नष्ट होते देख मदिरा प्रेमी सकते में आ गए और शराब से नफरत करने वालों ने खूब मजा लिया.

देवास में आबकारी विभाग ने मंगलवार को अवैध शराब नष्ट की. शंकरगढ़ ग्राउण्ड पर रोड रोलर से 4 करोड़ 8 लाख रुपये से अधिक की शराब जब्त कर दी गयी. आबकारी विभाग ने जिले में मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम के तहत 86 मामलों में कार्रवाई कर ये शराब बरामद की थी. इसे 24 जनवरी को शंकरगढ में मैदान पर रोड रोलर चलवाकर नष्ट करवा दिया.

4 करोड़ की शराब पर चला रोड रोलर जो बोतलें नष्ट की गयीं उनमें 3 हजार 775 बल्क लीटर देसी मदिरा, 1 हजार 839 बल्क लीटर विदेशी मदिरा, 453 बल्क लीटर बियर, 197 लीटर कच्ची हाथभट्टी मदिरा नष्ट की गई. इस सामग्री का अनुमानित बाजार मूल्य 41 लाख 59 हजार 190 रूपये है. इसके साथ ही 1836 अज्ञात प्रकरणों में जो शराब बरामद की गयी थी उस पर भी रोड रोलर चलवा दिया गया. इसमें 224 बल्क लीटर देसी मदिरा, 77 बल्क लीटर विदेशी मदिरा, 109 बल्क लीटर बियर, 12 हजार 444 लीटर कच्ची हाथभट्टी मदिरा और 06 लाख 64 हजार 635 किलो महुआ लहान को मौके पर नष्ट किया गया. ये पूरी शराब करीब उक्त 03 करोड़ 57 लाख 20 हजार 550 रूपये की थी.पहली दफा इतनी बड़ी कार्रवाई
देवास में यह पहली दफा है जब इतनी बड़ी मात्रा में शराब नष्ट की गयी. कार्रवाई के दौरान सहायक जिला आबकारी अधिकारी राघवेन्द्र सिंह कुशवाह, आबकारी उपनिरीक्षक प्रेमनारायण यादव, डी.पी.सिंह, निधि शर्मा, विजय कुचेरिया, उमेश स्वर्णकार, दिनेश भार्गव और जिले के मुख्य आरक्षक और आरक्षक उपस्थित थे.

 

Related posts

मंडोली जेल से वसूली करने वाले गिरोह का भंडाफोड़; मुख्य वॉर्डन समेत 5 अरेस्ट, पीड़िता के पास धमकी भरे कॉल और मैसेजेस आ रहे थे

News Blast

दिल्ली-बेंगलुरु के पास पहली बार चैम्पियन बनने का मौका; मुंबई की नजर 5वें खिताब पर

News Blast

RailTel Launches Prepaid Wi-Fi Service At 4000 Railway Stations In The Country

Admin

टिप्पणी दें