July 16, 2024 : 2:24 AM
Breaking News
MP UP ,CG अन्तर्राष्ट्रीय करीयर क्राइम खबरें खेल टेक एंड ऑटो ताज़ा खबर बिज़नेस ब्लॉग मनोरंजन महाराष्ट्र राज्य राष्ट्रीय हेल्थ

पुलिस गश्त करती रही! बदमाश एटीएम काटते रहे, जानें कैसे निकाला कैश

तीन एटीएम मशीनों को खुलेआम बदमाश काटते रहे और पुलिस गश्त करती रही। एक डीएसपी स्तर के अधिकारी, तीन थानों के मोबाइल और दस प्वाइंट, इन तीन एटीएम वाले क्षेत्रों में सुरक्षा का जिम्मा लिए घूम रहे थे, इन्हें एक भी स्पाट पर बदमाश दिखे न वारदात की भनक लग पाई। पुलिस की रात्रि गश्त व्यवस्था कितनी चुस्त है, इस एटीएम कांड से यह पोल खुल चुकी है। बदमाशों को एक एटीएम काटने में 10 से 20 मिनट का समय लगा। पहले और दूसरे एटीएम से कैश लूटने की घटना को बदमाशों ने एक ही रूट पर अंजाम दिया है। यहां से साढ़े चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित शताब्दीपुरम में सेंट्रल बैंक के एटीएम को लूटना भी कार सवार बदमाश पहले से तय करके आए थे। आशंका है शताब्दीपुरम में वारदात पार्ट-टू गैंग ने की।ये पुरानी एमसीआर-डीवाेल्ट मशीनें थीं, इसलिए बनाया निशानाः देशभर में जितनी भी एटीएम की मशीनों को काटा जा रहा है वह एमसीआर और डीवोल्ट कंपनी के पुरानी मशीनें हैं। इस साल पहले यह चलन से बाहर हो चुकी हैं, लेकिन यह जो दो मशीन एसबीआइ की हैं वह आउटसोर्स कंपनी की हैं। अब एसबीआइ अपडेट मशीन उपयोग कर रही है, जिन्हें काट पाना असंभव जैसा है। अपडेट वर्जन मशीनों को अभी तक काटा नहीं जा सका है। पुरानी मशीनों को आउटडेट होने पर नीलाम भी किया जाता है और यह बाहर पहुंचते ही बदमाशों के हाथ लग जाती हैं। इन मशीनों को विस्तृत तौर पर समझने के बाद यानी चादर की गेज, मोटाई, लंबाई सब समझ लेते हैं। इस वारदात में भी बदमाश सब जानते थे, इसलिए इतना कम समय काटने में लगा। बदमाशों के बिजली कनेक्शन भी बंद करने की आशंका है जिससे अलार्म नहीं पहुंच पाता।

मुरैना टोल पर सीसीटीवी में दिखी कार, सर्चिंग में 15 टीमेंः संबंधित बैंकों के एटीएम अधिकारियों को बुलाकर पुलिस ने पता लगाया कि किस एटीएम में शनिवार को कितना पैसा डाला था और कितना ग्राहकों ने निकाला है। पुलिस ने बैंक प्रबंधन से तीनों एटीएम के सीसीटीवी फुटेज भी लिए हैं। इन फुटेज से पुलिस को दिशा मिली कि लुटेरे कार से आए थे। इनकी संख्या चार-पांच के लगभग है और सभी मुरैना की तरफ भागे हैं। मुरैना के छौंदा टोल प्लाजा पर सफेद कार दिखी है। एसएसपी ने 15 टीमों का गठन किया है, जो बाहरी और स्थानीय स्तर पर सर्चिग में जुटी हैं। चार संदेही पुलिस ने पकड़ना बताया है।

कैमरे में कैद हुए बदमाश, सफेद कार की तलाशः रवि नगर एटीएम में सामने लगे सीसीटीवी कैमरे में बदमाश कैद हुए हैं। इसमें सिर पर टोपी व मास्क लगाए नजर आ रहे हैं। सभी की उम्र 30 से अधिक की होने का अनुमान है। पहले एक बदमाश एटीएम में घुसा और सीसीटीवी कैमरे पर ब्लैक स्प्रे कर दिया, ताकि पहचान न हो सके। इसके बाद गैस कटर से एटीएम काटकर चेस्ट (ट्रे) को निकाला और चेस्ट में से पैसा समेटने के बाद वापस निकल गए हैं।

2.11 मिनट पर मुंबई से मिली थी कंट्रोल रूम को सूचनाः एटीएम लूट की तीन वारदातों के अलावा गश्त के अलावा एटीएम गैस कटर से काटे जाने के बाद मुंबई अलार्म क्यो नहीं बजा। अधिकांश बैंकों के एटीएम पर मुंबई से 24 घंटे निगरानी की जाती है। एटीएम से छेड़छाड़ होने पर मुंबई अलार्म बजने के साथ वहां की स्क्रीन पर नजर आ जाता है, एटीएम में कितने लोग मौजूद है। शनिवार की रात को शहर के तीन एटीएम बदमाशों ने गैस कटर से काट दिया केवल एक शताब्दीपुरम अलार्म का अलार्म बजा था। यह अलार्म 2:11 मिनट पर बजा था। पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी। गश्त प्वाइंट भी मौके पर पहुंचा था, लेकिन तब तक वहां से बदमाश निकल चुके थे। एटीएम काटने के बाद 500-500 के दो नोट भी पड़े थे।

शनिवार-रविवार रात घटना के समय काैन कहां था, सुनें अफसराें के तर्कः

किला गेट थाना: थाना मोबाइल सहित दो प्वाइंटः थाना मोबाइल में एएसआइ दाउलाल पचौरिया, एक एफआरबी और एक थाना प्वाइंट गश्त पर था।

सफाई: टीआइ आलोक परिहार ने बताया कि सेवा नगर का एटीएम सड़क से दिखता नहीं है,कई दिन से शटर गिरा था।

थाना पड़ाव: थाना मोबाइल सहित दो प्वाइंटः थाना मोबाइल पर एएसआइ प्रकाश चौहान,एक एफआरबी व एक प्वाइंट गश्त पर था।

सफाई: टीआइ विवेक अष्ठाना ने बताया कि रात को बच्चे के गुम होने की सूचना पर एक एफआरबी वहां, दूसरी एफआरबी इंदरगंज के प्वाइंट पर गई थी।

महाराजपुरा थाना: आठ प्वाइंट गश्त परः महाराजपुरा गश्त प्रभारी एएसआइ रामकुमार कटारे थे और हर प्वाइंट में दो जवान थे। टीआइ पीके यादव छुट्टी पर थे।

सफाई: सीएसपी रवि भदौरिया ने बताया कि महाराजपुरा काफी बड़ा क्षेत्र है, इसलिए हर स्थान पर नजर नहीं रखी जा सकती। हो सकता है कि गश्त वारदात के पहले व बाद में निकला हो।

सेवा नगरः यहां से ही लुटेरों ने एटीएम लूटने की वारदातों का सिलसिला शुरू किया। सेवा नगर में स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया के एटीएम को निशाना बनाया। यहां बदमाशों को एटीएम लूटने में 10 से 15 मिनट का समय लगा।

शताब्दीपुरमः रवि नगर से लुटेरे शताब्दीपुरम स्थित सेंट्रल बैंक आफ इंडिया के एटीएम पर रात दो बजकर 11 मिनट

पर नजर आए हैं। यहां एटीएम काटने और चेस्ट से रुपये लूटने में बदमाशें को 10 मिनट का समय लगा है। पुलिस को आशंका है रविनगर व सेवा नगर के एटीएम की लूट एक ही गैंग ने की है, जबकि शताब्दीपुरम का एटीएम इनकी पार्ट-टू गैंग ने लूटा है।

वर्जन-

हमारी तकनीकी जांच टीम एटीएम की घटनाओं को लेकर काम कर रही है। सोमवार को टीम जांच रिपोर्ट पेश करेगी।

एसपी मोडविल, सी-एम, कंप्लाइंस,एसबीआइ

गश्त प्रभारी डीएसपी हेड क्वार्टर उमेश द्विवेदी से सीधी बातः

सवाल: गश्त होने के बाद भी तीन एटीएम कैसे लूट लिए गए?

जवाब: सेवा नगर एटीएम के पास एक पुरानी गाड़ी काफी समय खड़ी है। यह बूथ सड़क से नजर भी नहीं आता है और इसका शटर भी गिरा है, इसलिए नजर नहीं पड़ी हो।

सवाल: रात को एटीएम बूथ छेड़छाड़ होने का कोई प्वाइंट नहीं आया क्या?

जवाब: पुलिस कंट्रोल रूम को मुंबई से प्वाइंट मिला था कि शताब्दीपुरम एटीएम पर कोई छेड़छाड़ कर रहा है। गश्त प्वाइंट मौके पर पहुंचा था, लेकिन तब तक एटीएम बूथ में काम दिखाकर बदमाश भाग चुके थे। एटीएम काटे जाने के सभी प्वाइंटों को अलर्ट भी किया था।

Related posts

कोरोना से जंग: विशेषज्ञ का दावा, देश में रोज आ सकते हैं 5 लाख केस

Admin

जमीन विवाद को लेकर युवक पर तलवार से हमला, सात पर केस

News Blast

दिवंगत मां मोना को याद कर बोले अर्जुन कपूर, ‘उनकी मौत के छह साल बाद तक मैं उनका कमरा नहीं खोल पाया’

News Blast

टिप्पणी दें